MOTIVATIONAL POEM BY GOLDEJ जो अब तक ना हुआ वह अब होगा

कर रहा हूं प्रयास ब्रह्मांड को पाने का, होगा वही जो मैंने सोचा है, चाहत जिसकी की है वह सब

Read more