UPSC DAILY CURRENT 13-07-2018

[1]

भारत के व्यापार सुगमता सूचकांक के संदर्भ में  निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. व्यापार सुगमता सूचकांक नीति आयोग द्वारा विश्व बैंक के सहयोग से तैयार किया जाता है।
  2. यह सूचकांक प्रतिस्पर्द्धी और सहकारी संघवाद के विचार को बढ़ावा देता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) 1 और 2 दोनों
D) न तो 1 और न ही 2
Hide Answer –

उत्तर : (b)
व्याख्या :

विश्व बैंक (WB) के सहयोग से औद्योगिक नीति और संवर्द्धन विभाग (DIPP) द्वारा व्यापार सुगमता सूचकांक तैयार किया जाता है, न कि नीति आयोग द्वारा। अतः कथन 1 सही नहीं है|

रैंकिंग, हैंडहोल्डिंग सपोर्ट, सर्वोत्तम सिस्टम / प्रथाओं को अपनाने का अभ्यास प्रतियोगी और सहकारी संघवाद का आदर्श उदाहरण है| अतः कथन 2 सही है|

[2]

पश्चिमी घाट के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. यह महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा, केरल और तमिलनाडु राज्यों की सीमा से मिलता है।
  2. लाल पांडा पश्चिमी घाट के शोला जंगलों के लिये स्थानिक है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) 1 और 2 दोनों
D) न तो 1 और न ही 2
Hide Answer –

उत्तर : (d)
व्याख्या:

पश्चिमी घाट केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और गुजरात राज्यों की सीमा से मिलता है| अतः कथन 1 सही नहीं है|

लाल पांडा के लगभग 50% निवास स्थान पूर्वी हिमालय में हैं और ये पश्चिमी घाटों में नहीं पाए जाते हैं। पश्चिमी घाटों की कुछ महत्त्वपूर्ण स्थानिक प्रजातियों में पूँछ वाले शेर मैकाक (Lion-tailed Macaque), नीलगिरी ताहर (Nilgiri Tahr आदि हैं। अतः कथन 2 सही नहीं है|

[3]

‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना के संदर्भ में  निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. इसका उद्देश्य विशेष तौर पर सामाजिक-आर्थिक रूप से वंचित परिवारों को सशर्त नकद हस्तांतरण के माध्यम से लड़कियों की स्थिति में सुधार और उनका कल्याण करना है|
  2. इस योजना को तीन मंत्रालयों-  महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं  परिवार कल्याण मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सम्मिलित प्रयास से कार्यान्वित किया जा रहा है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) 1 और 2 दोनों
D) न तो 1 और न ही 2
Hide Answer –

उत्तर (b)
व्याख्या :

‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना को 2015 में प्रधानमंत्री द्वारा बाल लिंगानुपात (CSR) और जीवन चक्र की निरंतरता के लिये महिलाओं के सशक्तीकरण से संबंधित मुद्दों को संबोधित करने हेतु एक व्यापक कार्यक्रम के रूप में लॉन्च किया गया था।

इस योजना को तीन मंत्रालयों-  महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सम्मिलित प्रयास से कार्यान्वित किया जा रहा है।

उद्देश्य 

  • लैंगिक चयन में पक्षपातपूर्ण व्यवहार का उन्मूलन।
  • बालिकाओं की उत्तरजीविता और संरक्षण सुनिश्चित करना।
  • बालिकाओं की शिक्षा और भागीदारी सुनिश्चित करना।

कन्याश्री प्रकल्प पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है। यह सशर्त नकद हस्तांतरण के माध्यम से विशेष तौर पर सामाजिक-आर्थिक रूप से वंचित परिवारों की लड़कियों की स्थिति को सुधारने और कल्याण के लिये शुरू किया गया है|

[4]

‘नई दक्षिणी नीति’ के संदर्भ में  निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. यह उत्तर-पूर्वी क्षेत्र को दक्षिण-पूर्व एशिया से जोड़ने के लिये भारत द्वारा शुरू की गई नीति है।
  2. यह अन्य देशों में बुनियादी ढाँचागत विकास परियोजनाओं में भारतीय निवेश को बढ़ावा देती है।

नीचे दिये गए कूटों का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिये:

A) केवल 1
B) केवल 2
C) 1 और 2 दोनों
D) न तो 1 और न ही 2
Hide Answer –

उत्तर : (d)
व्याख्या :

नई दक्षिणी नीति

  • दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून ने 2017 में अपनी नई दक्षिणी नीति की घोषणा की जो दक्षिण-पूर्व एशियाई राष्ट्रों (ASEAN) के क्षेत्रीय ब्लॉक को एक राजनयिक और आर्थिक साझेदार बनाने का प्रयास है।
  • इसका उद्देश्य दक्षिण कोरिया को आसियान समूह से बेहतर ढंग से जोड़ना और कोरिया के आर्थिक प्रभाव का विस्तार करना है जो इस क्षेत्र में एशिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।
[5]

चाबहार बंदरगाह के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. चाबहार बंदरगाह एडेन की खाड़ी में स्थित है।
  2. बंदरगाह भारत को अफगानिस्तान में वैकल्पिक और सुरक्षित पहुँच प्रदान करेगा।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) 1 और 2 दोनों
D) न तो 1 और न ही 2
Hide Answer –

उत्तर : (b)
व्याख्या:

चाबहार बंदरगाह ओमान की खाड़ी पर स्थित है  और पाकिस्तान में ग्वादर बंदरगाह से केवल 72 किमी. दूर है जिसे चीन द्वारा विकसित किया जा रहा है। इस बंदरगाह का विकास भारत को अफगानिस्तान में वैकल्पिक और सुरक्षित पहुँच प्रदान करेगा और साथ ही मध्य एशियाई क्षेत्र में अधिक प्रत्यक्ष समुद्री मार्ग की पहुँच प्रदान करेगा।

chabahar-port

 

आनायुत्तु समारोह

anaiuthu-function

  • श्री वडक्कुनाथन मंदिर परिसर में लगभग 70 हाथी आनायुत्तु (हाथियों के लिये दावत) समारोह में भाग लेंगे।
  • केरल के श्री वडक्कुनाथन मंदिर के उल्लेखनीय संरक्षण प्रयासों के कारण वर्ष 2015 में  भारत ने यूनेस्को का ‘उत्कृष्टता पुरस्कार’ जीता था।
  • आनायुत्तु (हाथियों को खिलाना) केरल में त्रिशूर शहर के वडक्कुनाथन मंदिर के परिसर में आयोजित होने वाला एक त्योहार है।
  • अष्टद्रव्य महा गणपति होमम (Ashtadravya Maha Ganapathy Homam) भी मंदिर में आयोजित किया जाएगा।
  • इन हाथियों को भगवान गणेश का रूप मानकर उन्हें स्वादिष्ट भोजन कराया जाता है।

श्री वडक्कुनाथन मंदिर 

  • यह भगवान शिव को समर्पित एक मंदिर है।
  • इस मंदिर के चारों तरफ विशाल स्मारक हैं और इसमें कुट्टंबलम (रंगमंच हॉल) भी है।
  • इस मंदिर में महाभारत कीविभिन्न घटनाओं पर आधारित भित्तिचित्र उपलब्ध हैं।
  • इस मंदिर को प्राचीन स्मारक और पुरातत्त्व स्थल तथा अवशेष अधिनियम, 1958 के तहत राष्ट्रीय स्मारक घोषित किया गया है।
नीलगिरि ताहर

nilgiri-tahr

  • यह गठीले बदन का एक प्राणी है जिसकी खाल के बाल छोटे और रूखे होते हैं।
  • नर, मादा से बड़ा होता है और प्रौढ़ावस्था में इसका रंग और गाढ़ा हो जाता है।
  • वयस्क नरों की पीठ हल्के सलेटी रंग की होती है जिसे “सैडलबैक” कहते हैं।
  • यह तमिलनाडु और केरल राज्यों में नीलगिरि पर्वत और पश्चिमी घाट के दक्षिणी भाग में रहने वाला जंगली प्राणी है।
  • नीलगिरि ताहर केवल का वितरण पश्चिमी घाट तक ही सीमित है और वह भी केवल केरल और तमिलनाडु राज्यों में ही सीमित है।

आईयूसीएन स्थिति: लुप्तप्राय

  • वन्यजीवन(संरक्षण)अधिनियम, 1972: अनुसूची-1(इसके तहत पूर्ण इसे सुरक्षा प्राप्त है और अपराध के लिये  कठोरतम ज़ुर्माने का प्रावधान है।)
  • इस अध्ययन में वर्ष 2030, 2050 और 2080 के लिये क्रमशः 61.2 प्रतिशत, 61.4 प्रतिशत और 63 प्रतिशत की अधिकतम आवास हानि की भविष्यवाणी की गई है।
  • इसकी आबादी में गिरावट के प्रमुख कारणों में इनका शिकार किया जाना , पशुधन चराई और वर्षों से आवास नुकसान तथा पशु-मानव संघर्ष आदि रहे हैं।
  • ऐसा पहली बार है कि नीलगिरि ताहर पर जलवायु परिवर्तन की स्थिति में एक अध्ययन किया गया है।
कारोबार सुगमता सूचकांक का तीसरा संस्करण

DIPP

  • विश्व बैंक तथा औद्योगिक नीति और संवर्द्धन विभाग(DIPP) द्वारा कारोबार सुगमता सूचकांक (ease of doing business) का तीसरा संस्करण-2018 ज़ारी किया गया।
  • इस सूचकांक में आंध्र प्रदेश लगातार दूसरी बार प्रथम स्थान पाने में सफल रहा है, जबकि तेलंगाना और हरियाणा क्रमशः दूसरे एवं तीसरे तथा झारखंड चौथे जबकि गुजरात पाँचवें स्थान पर रहा।
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के DIPP द्वारा विश्व बैंक के सहयोग से ‘कारोबार सुधार कार्य योजना’(Business Reform Action Plan – BRAP) के तहत समस्त राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के लिये वार्षिक सुधार सर्वे किया गया।
  • इस वर्ष सुधार योजना में 2017 के मुकाबले कार्य बिंदुओं की संख्या को 285 से बढ़ाकर 372 कर दिया गया है।
  • आंध्र प्रदेश को सुधार साक्ष्य में 99.73% और फीडबैक स्कोर में 86.50% अंक मिले हैं।