UPSC DAILY CURRENT 25-07-2018

[1]

यह एक प्रकार का पौधा है जो मैंग्रोव आर्द्रभूमि में लवणीय (salty), दलदली स्थानों पर उगता है। इसे कम सोडियम कंटेंट के साथ नमक के लिये एक विकल्प माना जाता है। हाल ही में राज्य सरकारों ने इस पौधे की खेती के माध्यम से वाणिज्यिक लाभ लेने के प्रयास तेज़ कर दिये हैं। इसका प्रयोग उच्च रक्तचाप, मधुमेह और गैस्ट्रिक से पीड़ित व्यक्तियों को राहत प्रदान करता है।

उपर्युक्त कथन निम्नलिखित में से किस से संबंधित है ?

A) सालिकोर्निया
B) भुई आँवला
C) चकोड़
D) फिमब्रिस्तिलिस अगस्थेमलेनेसिस
Hide Answer –

उत्तर: (A)

व्याख्या:  उपर्युक्त कथन सालिकोर्निया नामक पौधे से संबंधित है जो मैंग्रोव आर्द्रभूमि में लवणीय (salty), दलदली स्थानों पर पाया जाता है। इसे कम सोडियम कंटेंट के साथ नमक के लिये एक विकल्प माना जाता है। हाल ही में राज्य सरकारों ने इस पौधे की खेती के माध्यम से वाणिज्यिक लाभ लेने के प्रयास तेज़ कर दिये हैं। इसका प्रयोग उच्च रक्तचाप, मधुमेह और गैस्ट्रिक से पीड़ित व्यक्तियों को रहत प्रदान करता है।

  • हाल ही में ‘फिमब्रिस्तिलिस अगस्थेमलेनेसिस’ नामक प्रजाति के पौधे की खोज पश्चिमी घाट के अगस्त्यमाला बायोरिज़र्व में की गई। शोधकर्त्ताओं ने इसे संरक्षित करने की सिफारिश की है ।
  • इस पौधे की प्राप्ति स्थल को केरल के टूरिज़्म हब में गिना जाता है जिसके कारण इसके लुप्तप्राय होने का खतरा अधिक है।
  • शोधकर्त्ताओं का मनना है कि यह पौधा गंभीर रूप से खतरे में है
[2]

जीडीपी डिफ्लेटर के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. यह मुद्रास्फीति को मापने का एक अधिक व्यापक तरीका है।
  2. यह उन वस्तुओं और सेवाओं के मूल्य का अनुपात है जो अर्थव्यवस्था में किसी विशेष वर्ष में मौजूदा कीमतों पर आधार वर्ष के दौरान प्रचलित कीमतों के लिये उत्पादन करती है।
  3. सकल घरेलू उत्पाद की कीमत को डिफ्लेटर वास्तविक जीडीपी और मामूली (nominal) जीडीपी के बीच अंतर के रूप में मापता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) केवल 1 और 3
D) 1, 2 और 3
Hide Answer –

उत्तर: (D)
व्याख्या:

  • जीडीपी डिफ्लेटर के संदर्भ में उपर्युक्त सभी कथन सही हैं।
  • जीडीपी डिफ्लेटर की गणना CSO (Central statistical organisation) करता है जो सांख्यकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के अधीन है। इसे implicit price deflator के नाम से भी जाना जाता है ।
[3]

अनामलाई टाइगर रिज़र्व के संदर्भ में निम्नलिखित  कथनों में से कौन– सा सही नहीं है?

A) यह आंध्र प्रदेश में स्थित चार बाघ अभयारण्यों में से एक है।
B) यह दक्षिण-पश्चिम भारत के पश्चिमी घाट सीमा के अंतर्गत आता है तथा यह क्षेत्र 25 वैश्विक जैव विविधता हॉटस्पॉट में से एक के रूप में नामित है।
C) टाइगर रिज़र्व सदाबहार वन, अर्द्ध-सदाबहार वन, नम पर्णपाती, शुष्क पर्णपाती और शोला वन जैसे विभिन्न आवास प्रकारों को समर्थन प्रदान करता है।
D) मोंटेन घास के मैदान, सवाना और कीचड़ युक्त घास के मैदान जैसे अन्य अद्वितीय वासस्थान इसकी प्रमुख विशेषता है ।
Hide Answer –

उत्तर : (A)
व्याख्या : 
अनामलाई टाइगर रिज़र्व तमिलनाडु और केरल की सीमा पर स्थित है इसे इंदिरा गांधी वन्य जीव अभयारण्य के नाम से भी जाता है ।

[4]

नासा ने सूर्य कि सतह के अध्ययन के लिये कार के आकार का एक क्राफ्ट भेजने की योजना बनाई है। इस योजना के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. यह क्राफ्ट सूर्य के साथ बृहस्पति ग्रह के सतह पर भी चार मिलियन मील कि दूरी का भ्रमण करेगा।
  2. यह सूर्य की ऊष्मा और विकिरण का सामना करने वाला अपनी तरह का पहला क्राफ्ट  होगा।
  3. पार्कर सोलर प्रोब अब तक मानव द्वारा निर्मित किसी भी वस्तु की अपेक्षा अधिक करीब से सूर्य की सतह का अध्ययन करेगा।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही नहीं है/हैं?

A) केवल 1
B) केवल 2
C) केवल 1 और 3
D) 1, 2 और 3
Hide Answer –

उत्तर : (A)
व्याख्या : 

  •   यह क्राफ्ट केवल सूर्य की सतह पर चार मिलियन मील की दूरी का भ्रमण करेगा। अतः कथन 1 सही नहीं है।
  • यह सूर्य की ऊष्मा और विकिरण का सामना करने वाला अपनी तरह की पहला क्राफ्ट  होगा। अतः कथन 2 सही है।
  • पार्कर सोलर प्रोब अब तक मानव द्वारा निर्मित किसी भी वस्तु की अपेक्षा अधिक करीब से सूर्य की सतह का अध्ययन करेगा। अतः कथन 3 सही है।

पृथ्वी और अन्य दुनिया पर सौर गतिविधि का प्रभाव सामूहिक रूप से अंतरिक्ष मौसम के रूप में जाना जाता है और इसकी उत्पत्ति को समझने की कुंजी सूर्य में निहित है। पार्कर सोलर प्रोब में सूर्य को दूरस्थ और प्रत्यक्ष दोनों रूप से अध्ययन करने के लिये उपकरणों का एक लाइनअप होता है। इन उकरणों से प्राप्त डेटा तारे के बारे में एक साथ तीन आधारभूत प्रश्नों के उत्तर खोजने में वैज्ञानिकों की मदद करेगा। पार्कर सोलर प्रोब सूर्य की कोरोना का अन्वेषण करेगा। यह सूर्य का ऐसा क्षेत्र है जिसे पूर्ण सूर्य ग्रहण की स्थिति में चंद्रमा द्वारा सूर्य के प्रकाशमान हिस्से को ढक दिया जाता है।

[5]

हाल ही में बंगलूरू स्थित थिंक टैंक पब्लिक अफेयर सेंटर द्वारा जारी शासन की गुणवत्ता पर सूचकांक में किस राज्य को शीर्ष स्थान प्राप्त हुआ है?

A) कर्नाटक
B) आंध्र प्रदेश
C) केरल
D) तमिलनाडु
Hide Answer –

उत्तर : (C)
व्याख्या :

बंगलूरू स्थित थिंक टैंक पब्लिक अफेयर सेंटर द्वारा जारी शासन की गुणवत्ता पर सूचकांक में केरल सबसे अच्छे शासित बड़े राज्यों की सूची में तीसरी बार शीर्ष पर है।

पब्लिक अफेयर सूचकांक 2018, 10 प्रमुख थीम, 30 केंद्रित विषयों और 100 संकेतकों पर आधारित था जिसमें तमिलनाडु, तेलंगाना, कर्नाटक और गुजरात क्रमशः दूसरे, तीसरे, चौथे और पाँचवें स्थान पर रहे।

  • बिहार, झारखंड और मध्य प्रदेश को इन संकेतकों में सबसे निचला स्थान मिला है, जो इन राज्यों में व्याप्त उच्च सामाजिक और आर्थिक असमानताओं की ओर संकेत करता है।
  • वर्ष 2016 से प्रतिवर्ष जारी किया जाने वाला यह सूचकांक आँकड़ों पर आधारित एक तंत्र के माध्यम से राज्यों में शासन प्रदर्शन की जाँच करता है, जो राज्यों द्वारा प्रदान किये जाने वाले सामाजिक और आर्थिक विकास के आँकड़ों पर आधारित होता है।
  • छोटे राज्यों (दो करोड़ से कम जनसंख्या) के बीच हिमाचल प्रदेश इस सूची में शीर्ष पर रहा, इसके बाद क्रमशः गोवा, मिज़ोरम, सिक्किम और त्रिपुरा ने सुशासन के लिये शीर्ष पाँच राज्यों में स्थान प्राप्त किया। मेघालय, मणिपुर और नगालैंड को छोटे राज्यों के लिये सूचकांक के निचले स्थानों पर रखा गया।
  • प्रत्येक राज्य बच्चों के लिये कितना अनुकूल है यह जानने के लिये इस वर्ष के संकेतकों में भारत के बच्चों पर आधारित एक अलग सूचकांक भी शामिल किया गया है।
  • केरल, हिमाचल प्रदेश और मिज़ोरम सभी बच्चों के लिये बेहतर रहने की स्थिति प्रदान करने वाले राज्यों की सूची में सबसे ऊपर हैं।

 

भारत स्टेज-VI

Bharat

हाल ही में  केंद्र सरकार ने कहा है कि वीएस -VI का अनुपालन नहीं करने वाले वाहनों की बिक्री अप्रैल 2020 तक बंद कर दी जाएगी।

भारत स्टेज (VS) मानदंड

  • वर्ष 2000 में पेश किये गए यूरोपीय नियमों (यूरो मानदंडों) के आधार पर  भारत स्टेज मानदंड वायु प्रदूषण की जाँच के लिये सरकार द्वारा उत्सर्जन नियंत्रण मानकों को अपनाया जाता है।
  • इन मानकों ने वाहनों सहित आंतरिक दहन इंजनों का उपयोग करके वायु प्रदूषण के लिये विनिर्देश तथा सीमा निर्धारित की है।
  • स्टेज जितना ऊँचा होगा मानदंड  उतना ही कठोर होगा।

बीएस IV की तुलना में बीएस VI  के ईंधन की गुणवत्ता क्या है?

  • बीएस VI  मानदंड 50 पीपीएम से लेकर 10 भाग प्रति मिलियन (10 parts per million-ppm) तक सल्फर सामग्री की कटौती करता है|
  • ईंधन में सल्फर फाइन पार्टिकल के उत्सर्जन में योगदान देता है।
  • बीएस VI मानदंड ईंधन के अधूरे दहन के कारण उत्पादित उत्सर्जन में कुछ हानिकारक हाइड्रोकार्बन के स्तर को कम करता है।
क्रिंटाफेल (krintafel)

krintafel

  • क्रिंटाफेल (tafenoquine) ग्लैक्सो स्मिथ क्लाइन द्वारा उत्पादित एक दवा है जो प्लास्मोडियम विवाक्स (vivax) मलेरिया के प्रकोप को रोकने के लिये अमेरिकी नियामकों द्वारा एक खुराक उपचार (one dose medication) के रूप में अनुमोदित की गई है।
  • इस दवा की मात्र एक खुराक परजीवी प्लाज्मोडियम विवाक्स के कारण मलेरिया के पुनरावर्ती (बार-बार होने वाले) रूप का इलाज करेगा, जिससे लगभग 8.5 मिलियन लोग हर साल शिकार होते हैं।
  • पिछले 60 वर्षों में यह दवा मलेरिया के उपचार में महत्त्वपूर्ण प्रगति के रूप में मानी जा रही है।
  • दवा की 300 मिलीग्राम की एक खुराक पी. विवाक्स के निष्क्रिय (dorment) रूप को अवरुद्ध करती है, जो कि यकृत को प्रभावित करता है तथा संक्रमित मच्छरों के ज़रिये मनुष्यों में स्थानांतरित होता है।
वाहन और सारथी

Vehcle

  • हाल ही में  एक अंतर-मंत्रालयी कार्य बल ने वाहन और सारथी के साथ ई-वे बिल डेटाबेस को एकीकृत करने की सिफारिश की है।
  • ई-वे बिल, वर्तमान में केवल ढुलाई की जाने वाली वस्तुओं के मूल्य का विवरण देता है।
  • जबकि यह वाहन पंजीकरण संख्या, चेसिस / इंजन संख्या, ढाँचा / ईंधन प्रकार, रंग, निर्माता और मॉडल जैसे वाहनों से संबंधित सभी विवरणों तक पहुँच की अनुमति देता है और नागरिकों को विभिन्न ऑनलाइन सेवाएँ प्रदान करता है।
  • वाहन को केंद्रीय मोटर वाहन अधिनियम 1988 के साथ-साथ राज्य मोटर वाहन नियमों द्वारा अनिवार्य किया गया है।
  • ड्राइविंग लाइसेंस और संबंधित डेटा ‘सारथी’ नामक एक अलग एप्लीकेशन के माध्यम से संग्रहित हो जाते हैं।
  • नेशनल इन्फार्मेटिक्स सेंटर (NIC) को सभी राज्यों में राज्य रजिस्टर और राष्ट्रीय रजिस्टर में वाहन” प्रोजेक्ट के तहत देश भर में विभिन्न आरटीओ द्वारा जारी होने वाले आरसी का ब्योरा एक जगह उपलब्ध कराया गया है, जबकि, “सारथी” में ड्राइविंग लाइसेंसों से संबंधित आँकड़ों का एकीकरण किया गया है। इस ऑनलाइन ब्योरे को हैंडहेल्ड डिवाइसेस के ज़रिये यातायात पुलिस और आरटीओ अफसरों को उपलब्ध कराया जाएगा।
हॉर्न ऑफ अफ्रीका

Africa

  • पूर्वोत्तर अफ्रीका के प्रायद्वीप को अफ्रीका का हॉर्न कहा जाता है या कभी-कभी सोमालिया प्रायद्वीप कहा जाता है। यह दक्षिणी अरब प्रायद्वीप के सामने स्थित है।
  • यह हिंद महासागर से एडन की खाड़ी को अलग करने वाले अफ्रीकी महाद्वीप का सुदूरपूर्वी विस्तार है।
  • इसमें मुख्य रूप से एरीट्रिया, जिबूती, इथियोपिया  और सोमालिया शामिल हैं तथा कभी-कभी सूडान और केन्या के कुछ हिस्से भी शामिल किये जाते हैं।
  • लंबे समय तक सशस्त्र संघर्ष, गंभीर खाद्य संकट और बड़े पैमाने पर विस्थापन के कारण अफ्रीका का हॉर्न कई दशकों तक वैश्विक ध्यान के केंद्र में रहा है।
  • हॉर्न बंदरगाह बाब अल-मंडब स्ट्रेट के पास स्थित है जो कि लाल सागर के मुहाने पर एक महत्त्वपूर्ण चोक-बिंदु है।

yeman

 

नासा का सोलर प्रोब

सामान्य अध्ययन प्रश्नप्रत्र-3: प्रौद्योगिकी, आर्थिक विकास, जैव विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा तथा आपदा प्रबंधन।
(खंड-11 : विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी- विकास एवं अनुप्रयोग और रोज़मर्रा के जीवन पर इसका प्रभाव।)

solar-probe

चर्चा में क्यों?

नासा ने सूर्य की सतह के अध्ययन के लिये कार के आकार का एक क्राफ्ट भेजने की योजना बनाई है। यह क्राफ्ट सूर्य की सतह पर चार मिलियन मील की दूरी का भ्रमण करेगा। यह सूर्य की ऊष्मा और विकिरण का सामना करने वाला अपनी तरह का पहला क्राफ्ट होगा।

प्रमुख बिंदु:

  • पार्कर सोलर प्रोब अब तक मानव द्वारा निर्मित किसी भी वस्तु की अपेक्षा अधिक करीब से सूर्य की सतह का अध्ययन करेगा।
  • आँखों को सरल दिखाई देने वाली सूर्य की संरचना काफी जटिल है। स्थिर और अपरिवर्तनीय डिस्क के समान प्रतीत होने वाला सूर्य एक गतिशील और चुम्बकीय रूप से सक्रिय तारा है।
  • सूर्य का वातावरण नियमित रूप से चुंबकीय पदार्थों को बाहर निकालता है, प्लूटो की कक्षा से दूर यह सौमंडल को घेरे रहता है।
  • चुंबकीय ऊर्जा की कुंडली जो प्रकाश और विकिरण कणों के साथ बाहर निकल सकती है, अंतरिक्ष में गमन कर हमारे वातावरण में अस्थायी व्यवधान उत्पन्न करती है और कभी-कभी पृथ्वी के नजदीक रेडियों और संचार के सिग्नल को भी विकृत कर देती है।

अंतरिक्ष मौसम:

  • पृथ्वी और अन्य दुनिया पर सौर गतिविधि का प्रभाव सामूहिक रूप से अंतरिक्ष मौसम के रूप में जाना जाता है और इसकी उत्पत्ति को समझने की कुंजी सूर्य में निहित है।
  • पार्कर सोलर प्रोब में सूर्य के दूरस्थ और प्रत्यक्ष दोनों रूप से अध्ययन करने के लिये उपकरणों का एक लाइनअप होता है।
  • इन उकरणों से प्राप्त डेटा तारे के बारे में एक साथ तीन आधारभूत प्रश्नों के उत्तर खोजने में वैज्ञानिकों की मदद करेंगे।
  • पार्कर सोलर प्रोब सूर्य की कोरोना का अन्वेषण करेगा। यह सूर्य का ऐसा क्षेत्र है जिसे पूर्ण सूर्य ग्रहण की स्थिति में चंद्रमा द्वारा सूर्य के प्रकाशमान हिस्से को ढक दिया जाता है

 

20 वर्षीय अफ़्रीकी युद्ध का अंत

सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र-2 शासन व्यवस्था, संविधान, शासन प्रणाली, सामाजिक न्याय तथा अंतर्राष्ट्रीय संबंध।
(खंड-18 : द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक समूह तथा भारत से संबंधित और/अथवा भारत के हितों को प्रभावित करने वाले करार।)

African War

चर्चा में क्यों?

इस माह की शुरुआत में इरीट्रिया की राजधानी अश्मारा में इथियोपिया के प्रधानमंत्री अबी अहमद ने इरीट्रिया के राष्ट्रपति इसाइअस अफवर्की को गले लगाकर अंततः 20 वर्षों से जारी युद्ध जिसमें महाद्वीप के दो सबसे गरीब देशों के कम-से-कम 80,000 लोगों की जान गई, को समाप्त करने की घोषणा की।

विवाद की जड़

  • अप्रैल 1993 में इरीट्रिया ने इथियोपिया के परिसंघ से अपने संबंध तोड़ लिये और अफ्रीका के हॉर्न पर लाल सागर के किनारे महत्त्वपूर्ण रणनीतिक अवस्थिति वाला एक स्वतंत्र देश बन गया जो कि दुनिया के सबसे महत्त्वपूर्ण जहाजी मार्गों में से एक के बगल में है।
  • पाँच वर्ष बाद ही एक सीमावर्ती शहर बादमे पर नियंत्रण को लेकर दोनों देशों के बीच युद्ध छिड़ गया। इस शहर का कोई विशेष महत्त्व नहीं था, लेकिन दोनों देश इस पर कब्ज़ा करना चाहते थे।
  • आबादी के बड़े स्तर पर विस्थापन ने परिवारों को छिन्न-भिन्न कर दिया और स्थानीय व्यापार अर्थव्यवस्था पूरी तरह से नष्ट हो गई।
  • जून 2000 में दोनों देशों ने युद्ध विराम के समझौते पर हस्ताक्षर किये। उसी वर्ष दिसंबर में अल्जीयर्स (अल्जीरिया) में शांति समझौते के द्वारा औपचारिक रूप से युद्ध को समाप्त कर दिया गया और विवाद को सुलझाने के लिये सीमा आयोग की स्थापना की गई।
  • जब आयोग ने अप्रैल 2002 में अपने अंतिम और बाध्यकारी निर्णय में बादमे को इरीट्रिया को देने का निश्चय किया तब इथियोपिया ने बिना अतिरिक्त शर्तों के निर्णय को स्वीकार करने से इनकार कर दिया और इस प्रकार एक गतिरोध उत्पन्न हो गया। अतः बादमे इथियोपिया के नियंत्रण में बना रहा और सीमा पर संघर्ष होने लगा।

प्रमुख बिंदु

  • दोनों नेताओं ने व्यापार, राजनयिक और यात्रा संबंधों की पुनर्बहाली तथा दोनों देशों के बीच “शांति और दोस्ती के एक नए युग” की घोषणा की।
  • इथियोपिया-इरीट्रिया संघर्ष के कारण शरणार्थी संकट के दौरान हज़ारों इरीट्रियावासियों को यूरोप की ओर भागते हुए देखा गया।
  • इथियोपिया के सत्तारूढ़ इथियोपियाई पीपुल्स रीवोल्यूशनरी डेमोक्रेटिक फ्रंट (ईपीआरडीएफ) ने एक साल पहले यह संकेत दिया था कि वह इरीट्रिया के साथ अपने रिश्ते को बदलने पर विचार कर रहा है।
  • युद्ध में भाग लेने वाले एक पूर्व सेना अधिकारी 41 वर्षीय अहमद के अप्रैल में प्रधानमंत्री बनने के बाद इस दिशा में तीव्रता से वृद्धि हुई। जून में उन्होंने घोषणा की कि इथियोपिया वर्ष 2000 में किये गए समझौते की सभी शर्तों का पालन करेगा।

शांति का संदर्भ

  • इथियोपिया एक भू-आबद्ध देश है और इरीट्रिया के साथ युद्ध के वर्षों के दौरान से लेकर अदन की खाड़ी और अरब सागर तक पहुँच के लिये जिबूती पर निर्भर है, जो बाब अल-मंदाब जलसंधि पर स्थित है।
  • अब इथियोपिया जिबूती पर अपनी निर्भरता को कम करने के लिये इरीट्रिया के बंदरगाहों (मुख्य रूप से इरीट्रिया के अंतिम छोर पर स्थित अस्साब) का उपयोग करना चाहता है।
  • शांति की स्थापना इरीट्रिया के हित में है, भले ही राष्ट्रपति अफवर्की ने 1993 में देश की आज़ादी के बाद खुद को सत्ता में बनाए रखने के लिये युद्ध का इस्तेमाल किया था।
  • पिछले दो दशकों में इरीट्रिया आर्थिक गतिहीनता और सामाजिक तथा राजनयिक अलगाव में फँसा रहा। इरीट्रिया ने अनिवार्य भर्ती द्वारा एक बड़ी सेना को बनाए रखा, संविधान को निलंबन के तहत रखा तथा प्रेस को परेशान कर दिया और ये सभी कार्य “इथियोपिया द्वारा इरीट्रियाई क्षेत्रों पर निरंतर कब्ज़े” से लड़ने के नाम पर किये गए।
  • जबकि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग इरीट्रिया पर बार-बार गंभीर उल्लंघन का आरोप लगा चुका है। इरीट्रियाई लोगों के युद्ध और अनिवार्य सैन्य सेवा से भागने के कारण 2015-16 में यूरोपीय तटों पर शरणार्थी संकट की समस्या में तीव्र वृद्धि के परिणामस्वरूप इरीट्रिया की सरकार पर अंतर्राष्ट्रीय दबाव बहुत अधिक बढ़ गया।