UPSC IAS PRE QUESTION PAPER- 2019(41-50Questions)

ALL QUESTIONS LINK

  1. मनोरंजन हेतु डिजिटल प्रौद्योगिकियों के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए :
    1. संवर्धित वास्तविकता (ऑगमेंटेड रिएलिटि (AR)] में एक छद्म वातावरण सृजित हो जाता है और भौतिक संसार पूरी तरह बहिष्कृत हो जाता है।
    2. आभासी वास्तविकता |वर्चुअल रिएलिटि (VR)] में कम्प्यूटर द्वारा सृजित प्रतिमाएँ वास्तविक जीवन की वस्तुओं या परिवेशों पर प्रक्षेपित हो जाती हैं।
    3. AR व्यक्तियों को संसार में विद्यमान रहने देता है और स्मार्टफोन या PC के कैमरे का उपयोग कर अनुभव को उन्नत करता है।
    4. VR संसार को पृथक् कर देता है और व्यक्ति को एक अलग धरातल पर ले जाकर उसे पूर्ण निमग्नता का अनुभव प्रदान करता है।
    उपर्युक्त में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं?
    (a) केवल 1 और 2
    (b) 3 और 4
    (c) 1, 2 और 3
    (d) केवल 4

Ans-b

  1. शब्द ‘डेनिसोवन (Denisovan)’ कभी-कभी समाचार माध्यमों में किस संदर्भ में आता है?
    (a) एक प्रकार के डायनासोर का जीवाश्म
    (b) एक आदिमानव जाति (स्पीशीज़)
    (c) पूर्वोत्तर भारत में प्राप्त एक गुफा तंत्र
    (d) भारतीय उपमहाद्वीप के इतिहास में एक भूवैज्ञानिक कल्प

Ans-b

  1. विज्ञान में हुए अभिनव विकास के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा एक कथन सही नहीं है?
    (a) विभिन्न जातियों की कोशिकाओं से लिए गए DNA के खंडों को जोड़कर प्रकार्यात्मक गुणसूत्र रचे जा सकते हैं।
    (b) प्रयोगशालाओं में कृत्रिम प्रकार्यात्मक DNA के हिस्से रचे जा सकते हैं।
    (c) किसी जंतु कोशिका से निकाले गए DNA के किसी हिस्से को जीवित कोशिका से बाहर, प्रयोगशाला में, प्रतिकृत कराया जा सकता है।
    (d) पाद और जंतुओं से निकाली गई कोशिकाओं में प्रयोगशाला की पेट्री डिश में कोशिका विभाजन कराया जा सकता है।

Ans-a

  1. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए :
    डिजिटल हस्ताक्षर
    1. एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक अभिलेख है, जो इसे जारी करने वाले प्रमाणन प्राधिकारी की पहचान करता।
    2. इंटरनेट पर सूचना या सर्वर तक पहुँच के लिए किसी व्यक्ति की पहचान के प्रमाण के रूप में, प्रयुक्त होता है।
    3. इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर करने की एक इलेक्ट्रॉनिक पद्धति है और सुनिश्चित करता है कि मूल अंश अपरिवर्तित है
    उपर्युक्त में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं?
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2 और 3
    (c) केवल 3
    (d) 1, 2 और 3

Ans-d

  1. परिधेय प्रौद्योगिकी (विअरेबल टेक्नोलॉजि) के संदर्भ में, परिधेय उपकरण द्वारा निम्नलिखित में से कौन-सा/से कार्य निष्पन्न किया जा सकता है/किए जा सकते हैं?
    1. किसी व्यक्ति का अवस्थान (लोकेशन) निर्धारण
    2. किसी व्यक्ति का निद्रा मॉनीटरन
    3. श्रवण दोषयुक्त व्यक्ति की सहायता
    नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2 और 3
    (c) केवल 3
    (d) 1, 2 और 3

Ans-d

  1. RNA अंतक्षेप [RNA इंटरफेरेंस (RNAi)]’ प्रौद्योगिकी ने पिछले कुछ वर्षों में लोकप्रियता हासिल कर ली है। क्यों?
    1. यह जीन अनभिव्यक्तिकरण (जीन साइलेंसिंग) रोगोपचारों के विकास में प्रयुक्त होता है।
    2. इसे कैंसर की चिकित्सा में रोगोपचार विकसित करने हेतु प्रयुक्त किया जा सकता है।
    3. इसे हॉर्मोन प्रतिस्थापन रोगोपचार विकसित करने हेतु प्रयुक्त किया जा सकता है।
    4. इसे ऐसी फसल पादप को उगाने के लिए प्रयुक्त किया जा सकता है, जो विषाणु रोगजनकों के लिए प्रतिरोधी हो।
    नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।
    (a) 1, 2 और 4
    (b) 2 और 3
    (c) 1 और 3
    (d) केवल 1 और 4

Ans-a

  1. हाल ही में वैज्ञानिकों ने पृथ्वी से अरबों प्रकाश-वर्ष दूर विशालकाय ‘ब्लैकहोलों’ के विलय का प्रेक्षण किया। इस प्रेक्षण का क्या महत्त्व है?
    (a) हिग्स बोसॉन कणों का अभिज्ञान हुआ।
    (b) गुरुत्वीय तरंगों का अभिज्ञान हुआ।
    (c) ‘वॉर्महोल’ से होते हुए अंतरा-मंदाकिनीय अंतरिक्ष यात्रा की संभावना की पुष्टि हुई।
    (d) इसने वैज्ञानिकों को ‘विलक्षणता (सिंगुलैरिटि)’ को समझना सुकर बनाया।

Ans-b

  1. निम्नलिखित में से कौन-से, भारत में सूक्ष्मजैविक रोगजनकों में बहु-औषध प्रतिरोध के होने के कारण हैं?
    1. कुछ व्यक्तियों में आनुवंशिक पूर्ववृत्ति (जेनेटिक प्रीडिस्पोजीशन) का होना
    2. रोगों के उपचार के लिए प्रतिजैविक (ऐंटिबॉयोटिक्स) की गलत खुराकें लेना
    3. पशुधन फार्मिंग में प्रतिजैविकों का इस्तेमाल करना
    4. कुछ व्यक्तियों में चिरकालिक रोगों की बहुलता होना।
    नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।
    (a) 1 और 2
    (b) केवल 2 और 3
    (c) 1, 3 और 4
    (d) 2, 3 और 4

Ans-b

  1. प्रायः समाचारों में आने वाला Cas9 प्रोटीन क्या है?
    (a) लक्ष्य-साधित जीन संपादन (टारगेटेड जीन एडिटिंग) में प्रयुक्त आण्विक़ कैंची
    (b) रोगियों में रोगजनकों की ठीक-ठीक पहचान के लिए प्रयुक्त जैव संवेदक
    (c) एक जीन जो पादपों को पीड़क-प्रतिरोधी बनाता
    (d) आनुवंशिकतः रूपांतरित फसलों में संश्लेषित होने वाला एक शाकनाशी पदार्थ

Ans-a

  1. निम्नलिखित में से कौन-सा एक कथन सही नहीं है?
    (a) यकृतशोथ B विषाणु काफी कुछ HIV की तरह ही संचरित होता है।
    (b) यकृतशोथ C का टीका होता है, जबकि यकृतशोथ B का कोई टीका नहीं होता।
    (c) सार्वभौम रूप से यकृतशोथ B और C विषाणुओं से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या HIV से संक्रमित लोगों की संख्या से कई गुना अधिक है।
    (d) यकृतशोथ B और C विषाणुओं से संक्रमित कुछ व्यक्तियों में अनेक वर्षों तक इसके लक्षण दिखाई नहीं देते।

Ans-b